Samvad Lekhan In Hindi For Class 5: हिन्दी संवाद लेखन कक्षा 5 NCERT, Examples

दोस्तों इस लेख में, हमने CBSE Samvad Lekhan In Hindi For Class 5 में यह लेख तैयार की है, यदि आप भी कक्षा 5 के विद्यार्थी हैं और बातचीत करने के लिए संवाद लेखन की तलाश में हैं, तो यह लेख आपकी बहुत मदद करेगी। इसमें मैंने Samvad Lekhan For Class 5 के लिए रखा है, ताकि आपकी पढ़ाई अच्छे से हो सके और आप संवाद आदि प्रतियोगिता में भाग लेकर जीत सकें।

Samvad Lekhan In Hindi For Class 5

Advertisements

“Samvad Lekhan” कक्षा 5 के विद्यार्थी के लिए हिंदी भाषा के अध्ययन में शामिल एक सामान्य विषय है। यह दो या दो से अधिक व्यक्तियों के बीच संवाद या वार्तालाप लिखने की कला को संदर्भित करता है। यह अभ्यास विद्यार्थी को उनके लेखन कौशल को बढ़ाने में मदद करता है और हिंदी व्याकरण और शब्दावली पर उनकी पकड़ में सुधार करता है। तो बस लेख को नीचे स्क्रॉल करें और CBSE Samvad Lekhan For Class 5 Hindi पढ़ें और जानकारी प्राप्त करें।

Samvad Lekhan In Hindi For Class 5: हिन्दी संवाद लेखन कक्षा 5 NCERT, Examples
Samvad Lekhan In Hindi For Class 5: हिन्दी संवाद लेखन कक्षा 5 NCERT, Examples

संवाद लेखन के उदाहरण

1) संवाद: दो दोस्तों के बीच एक फिल्म देखने की योजना

Advertisements

प्रश्न: हेल्लो, कैसे हो?
उत्तर: हेल्लो, मैं ठीक हूँ। तुम कैसे हो?

प्रश्न: आज कुछ प्लान है?
उत्तर: हां, मैं सोच रहा हूँ कि हम आज फिल्म देखने जा सकते हैं।

प्रश्न: वाह, कौनसी फिल्म देखने की सोच रहे हो?
उत्तर: हम “इंटरस्टेलर” फिल्म देखने की सोच रहे हैं, मैंने सुना है कि यह बहुत अच्छी है।

प्रश्न: कितने बजे मिलोगे?
उत्तर: फिल्म रात को 8 बजे शुरू होती है, हम 7:30 बजे मिलेंगे ताकि हम अपनी सीटें ढूंढ़ सकें।

प्रश्न: बहुत अच्छा! मैं भी तैयार हूँ, हमें अच्छा समय मिलेगा!
उत्तर: हां, बिल्कुल! हम फिल्म का आनंद लेंगे और बाद में उसकी चर्चा करेंगे।

नोट: इस संवाद में, दो दोस्तों के बीच फिल्म देखने की योजना के बारे में बात हो रही है, जिसमें वे फिल्म का चयन, समय, और मिलकर समय बिताने की योजना बना रहे हैं।


संवाद लेखन कक्षा ५ विद्यार्थी के लिए हिंदी में

2) संवाद: दो दोस्तों के बीच एक रेस्टोरेंट में खाने की योजना

प्रश्न: हेल्लो, कैसे हो?
उत्तर: हेल्लो, मैं ठीक हूँ। तुम कैसे हो?

प्रश्न: आज कुछ प्लान है?
उत्तर: हां, मैं सोच रहा हूँ कि हम आज रेस्टोरेंट में खाने जा सकते हैं।

प्रश्न: वाह, कहां खाने का सोच रहे हो?
उत्तर: हम “ले रेस्त्रो” में खाने का सोच रहे हैं, वहां का खाना बहुत अच्छा होता है।

प्रश्न: कितने बजे मिलोगे?
उत्तर: हम 7:30 बजे मिलेंगे, ताकि हम समय पर खाना खा सकें।

प्रश्न: अच्छा, मैं भी तैयार हूँ! हम अच्छा समय बिताएंगे।
उत्तर: हां, बिल्कुल! हम अच्छा खाना खाएंगे और बातें करेंगे।

नोट: इस संवाद में, दो दोस्तों के बीच एक रेस्टोरेंट में खाने की योजना के बारे में बात हो रही है, जिसमें वे रेस्टोरेंट का चयन, समय, और मिलकर खाने की योजना बना रहे हैं।


Samvad Lekhan In Hindi For Class 5 Question

3) संवाद: दो दोस्तों के बीच एक म्यूज़ियम दौरे की योजना

प्रश्न: हेल्लो, कैसे हो?
उत्तर: हेल्लो, मैं ठीक हूँ। तुम कैसे हो?

प्रश्न: आज कुछ प्लान है?
उत्तर: हां, मैं सोच रहा हूँ कि हम आज म्यूज़ियम में दौरा कर सकते हैं।

प्रश्न: वाह, किस म्यूज़ियम में जाने का सोच रहे हो?
उत्तर: हम “राष्ट्रीय इतिहास संग्रहालय” जाने की सोच रहे हैं, वहां हमें भारतीय इतिहास के बारे में बहुत कुछ जानने को मिलेगा।

प्रश्न: कितने बजे मिलोगे?
उत्तर: म्यूज़ियम सुबह 10 बजे खुलता है, हम 10:30 बजे मिलेंगे ताकि हम पहले से थोड़ी बातें कर सकें।

प्रश्न: अच्छा, मैं भी तैयार हूँ! हम बहुत कुछ नया सीखेंगे!
उत्तर: हां, बिल्कुल! हम इतिहास के साथ अच्छा समय बिताएंगे और नए ज्ञान को अपनाएंगे।

नोट: इस संवाद में, दो दोस्तों के बीच म्यूज़ियम में दौरे की योजना के बारे में बात हो रही है, जिसमें वे म्यूज़ियम का चयन, समय, और दौरे के दौरान जाने की योजना बना रहे हैं।


कक्षा ५ के विद्यार्थियों के लिए हिंदी में संवाद लेखन

4) संवाद: दो दोस्तों के बीच एक जगह घूमने की योजना

प्रश्न: हेल्लो, कैसे हो?
उत्तर: हेल्लो, मैं ठीक हूँ। तुम कैसे हो?

प्रश्न: आज कुछ प्लान है?
उत्तर: हां, मैं सोच रहा हूँ कि हम आज एक अच्छी जगह पर घूमने जा सकते हैं।

प्रश्न: वाह, कौनसी जगह पर जाने का सोच रहे हो?
उत्तर: हम “नेचर पार्क” जाने की सोच रहे हैं, वहां पर्याप्त हरियाली और शांति होती है।

प्रश्न: कितने बजे मिलोगे?
उत्तर: हम 9:30 बजे मिलेंगे, ताकि हम सुबह की शांति और ताजगी का आनंद ले सकें।

प्रश्न: बहुत अच्छा! मैं भी तैयार हूँ, हम बहुत मज़े करेंगे!
उत्तर: हां, बिल्कुल! हम जगह की सौंदर्य, वन्यजीव, और प्राकृतिक सौंदर्य का आनंद लेंगे।

नोट: इस संवाद में, दो दोस्तों के बीच एक जगह पर घूमने की योजना के बारे में बात हो रही है, जिसमें वे घूमने की जगह का चयन, समय, और जगह के सौंदर्य का आनंद लेने की योजना बना रहे हैं।


Samvad Lekhan In Hindi For Class 5 Example

5) संवाद: दो दोस्तों के बीच एक बाज़ार शॉपिंग की योजना

प्रश्न: हेल्लो, कैसे हो?
उत्तर: हेल्लो, मैं ठीक हूँ। तुम कैसे हो?

प्रश्न: आज कुछ प्लान है?
उत्तर: हां, मैं सोच रहा हूँ कि हम आज बाज़ार में शॉपिंग कर सकते हैं।

प्रश्न: वाह, कौनसे बाज़ार में जाने का सोच रहे हो?
उत्तर: हम “महात्मा गांधी बाज़ार” जाने की सोच रहे हैं, वहां पर बहुत सारे विकल्प होते हैं।

प्रश्न: कितने बजे मिलोगे?
उत्तर: बाज़ार सुबह 11 बजे खुलता है, हम 11:30 बजे मिलेंगे ताकि हम खरीददारी करने के लिए अच्छे से समय बिता सकें।

प्रश्न: बहुत अच्छा! मैं भी तैयार हूँ, हमें बहुत मज़े करने के लिए कुछ अच्छा मिलेगा!
उत्तर: हां, बिल्कुल! हम शॉपिंग का आनंद लेंगे और आपसी वक्त बिताएंगे।

नोट: इस संवाद में, दो दोस्तों के बीच एक बाज़ार में शॉपिंग की योजना के बारे में बात हो रही है, जिसमें वे बाज़ार का चयन, समय, और खरीददारी करने की योजना बना रहे हैं।


Samvad Lekhan In Hindi For Class 5 Topic

7) संवाद: दो दोस्तों के बीच एक किताब पढ़ने की योजना

प्रश्न: हेल्लो, कैसे हो?
उत्तर: हेल्लो, मैं ठीक हूँ। तुम कैसे हो?

प्रश्न: आज कुछ प्लान है?
उत्तर: हां, मैं सोच रहा हूँ कि हम आज एक किताब पढ़ सकते हैं।

प्रश्न: वाह, कौनसी किताब पढ़ने का सोच रहे हो?
उत्तर: हम “टू किल अ मॉकिंगबर्ड” पढ़ने का सोच रहे हैं, यह किताब बहुत प्रसिद्ध है।

प्रश्न: कितने बजे मिलोगे?
उत्तर: हम 4 बजे मिलेंगे, ताकि हम एक अच्छी जगह पर बैठकर पढ़ सकें।

प्रश्न: अच्छा, मैं भी तैयार हूँ! हमें यह किताब पढ़ते समय अच्छा समय मिलेगा!
उत्तर: हां, बिल्कुल! हम किताब के साथ अच्छे समय का आनंद लेंगे और विचार विमर्श करेंगे।

नोट: इस संवाद में, दो दोस्तों के बीच एक किताब पढ़ने की योजना के बारे में बात हो रही है, जिसमें वे किताब का चयन, समय, और पढ़ने की योजना बना रहे हैं।


संवाद लेखन कक्षा 5 वर्कशीट

प्रश्नः 1) फलवाला और ग्राहक फलवाला : आइये, बाबूजी! अच्छे सेव हैं।

उत्तरः

  • ग्राहक : किस भाव से बेचे हैं, सेब?
  • फलवाला : बाबूजी! आपको चालीस रुपए किलो लगा दूंगा।
  • ग्राहक : चालीस रुपये तो अधिक माँग रहे हो।
  • फलवाला : बाबूजी! माल के दाम हैं।
  • ग्राहक : सो तो ठीक है। तीस रुपये लगा दोगे।
  • फलवाला : बाबूजी ये तो असली कश्मीरी सेव हैं। आपके लिए छत्तीस रुपये लग जाएँगे।
  • ग्राहक : बत्तीस रुपये लगाते हो, तो एक किलो दे दो।
  • फलवाला : बोहनी कर रहा हूँ, बाबूजी! आपको निराश नहीं करूँगा। यह लीजिये एक किलो सेव।

प्रश्नः 2) पुस्तक माँगने को लेकर एक छात्र और छात्रा के बीच हुए संवाद को लिखिए।

उत्तर :

  • धीरज – रूचि ! मुझे अपनी पुस्तक दे दो।
  • रूचि – क्या तुम्हारे पास पुस्तक नहीं है ?
  • धीरज – नहीं, मेरे पास यह पुस्तक नहीं है।
  • रूचि – पर, तुम्हारी पुस्तक कहाँ गई ?
  • धीरज – मेरी पुस्तक खो गई है।
  • रूचि – ठीक है, तुम मेरी पुस्तक से काम कर लो।
  • धीरज – मैं अपना काम करके तुम्हारी पुस्तक वापस कर दूँगा।
  • रूचि – जब भी तुम्हे आवश्यकता पड़े, मेरी पुस्तक ले लेना।

प्रश्नः 3) पिता और पुत्र के बिच संवाद।

उत्तर :

  • राहुल – पिता जी, मुझे अपने दोस्तों के साथ बाजार जाना है।
  • पिता – नहीं राहुल, तुम अपने दोस्तों के साथ रहकर घुमक्कड़ होते जा रहे हो। तुमने पढ़ना लिखना तो बिलकुल ही छोड़ दिया है।
  • राहुल – नहीं पिता जी, अब मैं खूब पढ़ूँगा, वादा करता हूँ।
  • पिता – बेटे ऐसे वादे तो रोज करते हो।
  • राहुल – पर इस बार मैं पक्का वादा करता हूँ कि आपको 80% से ज्यादा अंक ला कर दिखाऊँगा।
  • पिता – और अगर नहीं लाए तो…….. !
  • राहुल – फिर आप जैसा कहेंगे, मैं वैसा ही करूँगा।
  • पिता – ठीक है। तुम्हें यह आखरी अवसर देता हूँ।

प्रश्नः 4) दो सहेलियों के मध्य वार्तालाप

उत्तरः

  • अनीता : सुहानी, आज शाम तुम क्या कर रही हो?
  • सुहानी : कुछ नहीं अनीता, बस एक तस्वीर पूरी करने में लगी हूँ।
  • अनीता : कैसी तस्वीर?
  • सुहानी : अरे! स्कूल में पर्यावरण दिवस पर चित्रकला प्रतियोगिता रखी है ना? क्यों तुम्हारे पास सूचना नहीं आई।
  • अनीता : अरे हाँ, आई तो थी, मैं भूल गई।
  • सुहानी : हाँ उसमें हमें घर पर ही चित्र बनाना है।
  • अनीता : फिर भेजेंगे कैसे?
  • सुहानी : अरे! तस्वीर पूरी होने पर ऑनलाइन माध्यम से स्कूल की वेबसाइट पर भेजना है।
  • अनीता : अच्छा।
  • सुहानी : हमें 3 जून तक भेजनी है क्योंकि अन्तिम तारीख
  • अनीता : ठीक है फिर, अभी तो समय है, मैं भी बना ही लेती हूँ।
  • सहानी : जरूर, हमें कोशिश अवश्य करनी चाहिए।

प्रश्नः 5) किसी वस्तु को लेकर भाई – बहन के बीच होने वाले झगडे के संवाद लिखिए।

उत्तर :

  • श्रेया – निखिल, तुमने मेरा खिलौना क्यों लिया ?
  • निखिल – मैं कुछ देर खेलकर इसे लौटा दूँगा।
  • श्रेया – नहीं, मुझे मेरा खिलौना अभी चाहिए।
  • निखिल – पर, क्यों ?
  • श्रेया – क्योंकि तुम ढंग से नहीं खेलते हो और मेरा खिलौना तोड़ दोगे।
  • निखिल – नहीं, दीदी ! मैं ढंग से खेलूँगा।
  • श्रेया – नहीं, तुम हर बार ऐसा ही कहते हो।
  • निखिल – मैं सच कह रहा हूँ दीदी ! इस बार खिलौना नहीं तोडूंगा।
  • श्रेया – अच्छा ठीक है, लेकिन ध्यान से खेलना।
  • निखिल – ठीक है दीदी, धन्यवाद।

प्रश्नः 6) आँखों देखी बस दुर्घटना के संबंध में पिता और पुत्र के मध्य संवाद

उत्तरः

  • पिता : रामू! आज तो तुमने बहुत देर कर दी।
  • रामू : पिताजी ! हमारे विद्यालय के एक छात्र का बस दुर्घटना में निधन हो गया। हम अफ़सोस करने के लिए उसके घर गये थे।
  • पिता : बस दुर्घटना ! कैसे?
  • रामू : विद्यालय के पास लाल बत्ती पर बस रुकी थी। वह छात्र बस से उतर रहा था तभी पीछे से मिनी बस ने आकर उसे कुचल दिया। पिताजी!
  • पिता : ओह ! उसके घर में कौन-कौन हैं?
  • रामू : पिताजी! दो माह पहले माताजी कार दुर्घटना में चल बसी थी। बस अब पिता और एक छोटा भाई रह गया।
  • पिता : विधाता का भी खेल निराला है बेटा! ईश्वर से प्रार्थना करो कि उन्हें दुःख सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

संवाद किसे कहते हैं?

संवाद को जब दो या दो से अधिक व्यक्तियों के बीच में विचार और जानकारी का आदान-प्रदान कहा जाता है, तो उसे ‘संवाद’ कहते हैं। संवाद एक महत्वपूर्ण सामाजिक और कॉम्यूनिकेशन कौशल है, जिसमें विचारों, विचारों और जानकारी को स्वतंत्र रूप से व्यक्त किया जा सकता है और दूसरे व्यक्तियों के साथ साझा किया जा सकता है। संवाद एक सुनने और बोलने का प्रक्रियात्मक प्रक्रिया होता है, जिसमें ज्ञान, विचार, और भावनाओं का आपसी आदान-प्रदान होता है।

संवाद किसी भी विषय पर हो सकता है, जैसे कि व्यक्तिगत बातचीत, सामाजिक विषय, व्यवसायिक परिप्रेक्ष्य, शिक्षा, और कई अन्य। संवाद का मुख्य उद्देश्य जानकारी साझा करना, गहरे विचारों को व्यक्त करना, और दूसरों के साथ बातचीत करके विचारों को सुधारना और समझाना होता है।

संवाद के दो प्रमुख रूप होते हैं:

  1. मौखिक संवाद (Oral Communication): मौखिक संवाद मौखिक भाषा का उपयोग करके होता है, जिसमें व्यक्तिगत बातचीत, बोलचाल, भाषण, और संवादिता शामिल होते हैं। इसमें आवाज, भाषा, भावनाओं का अभिव्यक्ति शामिल होता है। मौखिक संवाद का उदाहरण हैं – व्यक्तिगत बातचीत, व्यवसायिक मीटिंग, भाषण, और टेलीफोन कॉल इत्यादि।
  2. लिखित संवाद (Written Communication): लिखित संवाद मौखिक भाषा की बजाय लिखित शैली में होता है। इसमें ब्रीफ, रिपोर्ट, पत्र, ईमेल, लिखित संदेश, और दस्तावेजों का उपयोग होता है। यह लिखित विचारों को स्पष्टता और निष्कर्षता के साथ प्रस्तुत करने का माध्यम होता है और स्थायी रूप से दस्तावेजों में रिकॉर्ड किया जा सकता है।

Also Study

Samvad Lekhan In Hindi For Class 1
Samvad Lekhan In Hindi For Class 2
Samvad Lekhan In Hindi For Class 3
Samvad Lekhan In Hindi For Class 4
Samvad Lekhan In Hindi For Class 6
Samvad Lekhan In Hindi For Class 7
Samvad Lekhan In Hindi For Class 8
Samvad Lekhan In Hindi For Class 9
Samvad Lekhan In Hindi For Class 10
Samvad Lekhan In Hindi For Class 11
Samvad Lekhan In Hindi For Class 12

संवाद में क्या क्या विशेषताएं होनी चाहिए?

संवाद को सफल बनाने के लिए कुछ विशेषताएं होनी चाहिए:

  1. सुनने की क्षमता (Listening Skills): संवाद में सुनने की क्षमता महत्वपूर्ण है। आपको ध्यानपूर्वक सुनना चाहिए, ताकि आप दूसरे व्यक्ति के भावनाओं और विचारों को समझ सकें।
  2. स्पष्टता (Clarity): संवाद की स्पष्टता होनी चाहिए, ताकि दूसरे व्यक्ति समझ सकें कि आप क्या कहना चाह रहे हैं। अशब्द, अन्यायुक्त या अस्पष्ट भाषा से बचना चाहिए।
  3. समय प्रबंधन (Time Management): संवाद में समय का सही उपयोग करना महत्वपूर्ण है। आपको अपनी बात को संक्षेप से प्रस्तुत करना चाहिए और समय पर बातचीत को समाप्त करना चाहिए।
  4. संवादिक और अवसरवादी (Engagement and Adaptability): आपको संवादिक बनने का प्रयास करना चाहिए, जिससे कि आप दूसरे व्यक्ति के साथ संवाद में रुचाना ला सकें। आपको परिस्थितियों के आधार पर अपने संवाद को समायोजित करने की क्षमता होनी चाहिए।
  5. समझदारी (Empathy): संवाद में सामंजस्य और समझदारी होनी चाहिए। आपको दूसरे व्यक्ति की दृष्टिकोण समझने का प्रयास करना चाहिए और उनकी भावनाओं का सम्मान करना चाहिए।
  6. संवाद में सजीवता (Active Participation): आपको संवाद में सक्रिय भागीदारी करनी चाहिए, न कि केवल बोलने वाले या सुनने वाले की भूमिका में रहना चाहिए।
  7. संवाद के उद्देश्य का पालन (Objective): आपको संवाद के उद्देश्य को स्पष्ट रूप से समझना चाहिए और उसे प्राप्त करने के लिए अपने संवाद को अनुकूलित करना चाहिए।
  8. संवाद में संतुलन (Balance): संवाद में संतुलन बनाए रखना चाहिए, यानी कि आपको बातचीत के समय बातचीत के सभी पक्षों को महत्व देना चाहिए।
  9. भाषा का उपयोग (Language Usage): संवाद में सामाजिक, व्यवसायिक या अन्य संदर्भों के हिसाब से उपयुक्त भाषा का उपयोग करना चाहिए।
  10. प्रतिक्रिया और पुनरावलोकन (Feedback and Reflection): संवाद के बाद प्रतिक्रिया और सोच-समझकर विचार करना चाहिए ताकि आप अपने संवाद कौशल में सुधार कर सकें।

इन विशेषताओं का पालन करके, आप संवाद को और भी प्रभावी और सार्थक बना सकते हैं।

संवाद लेखन में ध्यान देने योग्य कुछ महत्वपूर्ण बातें निम्नलिखित हो सकती हैं:

  1. विषय का साफ़ संकेत (Clear Subject Line): अगर आप एक ईमेल या संदेश के माध्यम से संवाद कर रहे हैं, तो आपके संदेश के विषय को स्पष्ट रूप से प्रकट करने के लिए संकेत देना चाहिए।
  2. उपयुक्त और सुविधाजनक भाषा (Appropriate and Conducive Language): संवाद में उपयुक्त भाषा का उपयोग करना महत्वपूर्ण है। आपको अपने प्राप्त करने वाले संवादके की भाषा और स्तर के आधार पर भाषा का चयन करना चाहिए।
  3. संक्षेप और मुख्य बिंदु (Conciseness and Main Points): अपने संवाद को संक्षेप में लिखने का प्रयास करें और मुख्य बिंदुओं को हाइलाइट करें।
  4. उचित तारीख और समय (Appropriate Date and Time): संवाद में समय और तारीख को सही ढंग से उचितता के साथ उपयोग करें।
  5. सटीक और योग्य प्राधिकृतियां (Accurate and Relevant Credentials): आपके संवाद के साथ उचित प्राधिकृतियां और संवादक के विचार को समर्थित करने वाली जानकारी को संबंधित रूप से प्रस्तुत करें।
  6. उचित संवाद प्रारूप (Proper Dialogue Format): अगर आप किसी प्रकार के संवाद लेख रहे हैं, तो संवाद प्रारूप का उपयोग करें, जिसमें व्यक्तिगत वक्ताओं की बोलचाल को स्पष्ट रूप से प्रस्तुत किया जाता है।
  7. सजीव और रुचिकर संवाद (Engaging and Interesting Conversation): आपके संवाद को सजीव और रुचिकर बनाने के लिए उदाहरण, कथा, या उद्धरणों का उपयोग कर सकते हैं।
  8. समय प्रबंधन (Time Management): संवाद में समय का सही उपयोग करना महत्वपूर्ण है। आपको संवाद को समय सीमित करके लिखना चाहिए, ताकि आपके संवादके को समय से पूरी जानकारी मिल सके।
  9. प्रतिक्रिया के लिए खुला द्वार (Open Door for Feedback): संवाद में प्रतिक्रिया के लिए संवादके को खुला द्वार दें, ताकि वह आपके संवाद के साथ सहयोग कर सकें या संवाद को आगे बढ़ा सकें।
  10. श्रीष्ठ संवाद कौशल (Excellent Communication Skills): अच्छे संवाद कौशल होने का प्रयास करें, जैसे कि सुनने, बोलने, और समझने की क्षमता।

इन सुझावों का पालन करके, आप संवाद लेखन में अधिक प्रभावी और प्रोफेशनल तरीके से संवाद कर सकते हैं।

निष्कर्ष

तो आपको यह लेख CBSE Samvad Lekhan In Hindi For Class 5 कैसी लगी नीचे Comment करके हमें जरूर बताएं तथा लेख को अपने दोस्तों मे शेयर जरूर से जरूर करें, क्योंकि HINDIDP.IN पर ही आपको सबसे सटीक जानकारी देने का काम हम कर रहें है और करते रहेंगे।

Leave a Comment